AIMPLB asks Muslims not to ‘worry’ over BJP sweep

3
Maulana Wali Rahmani

Lucknow, May 24 The All India Muslim Personal Law Board (AIMPLB) has expressed concern over the Muslim community’s future in the wake of the BJP’s landslide victory in the Lok Sabha elections and asked them not to be worried.

AIMPLB General Secretary Maulana Mohammad Wali Rehmani, in an open letter, said that the coming days would be full of problems but no one should worry about it.

The Muslims should maintain courage, passion and encourage others to meet the situation, he said.

Maulana Rehmani said: “Our elders had decided to remain in this country with some objective. Earlier too, we have faced several critical situations and this time too we will tide over it.”

Notably, no Muslim candidate from Uttar Pradesh could make it to the Lok Sabha in 2014 but this time six Muslims have been elected.

The BJP did not field any Muslim candidate this time too in Uttar Pradesh.IANS

3 COMMENTS

  1. 2 lakh EVMs went missing in official RTI and Not a word of protest from seasoned senior politician Barrister Asaduddin Owaisi!

    AIMIM…Muslim Vote-splitter in Maharashtra… loyal ‘Team B’ of BJP got due ‘fixed EVMs reward’ of 2 MP seats,
    and soon afterwards he makes provoking statement that Hindu minds are rigged to flare tempers in already volatile atmosphere.

    Then he loyally also gives clean chit to the very fixed NDA–EVMs he used to get 2 “loyalty reward ” MP seats.

    Only tauba/atonement/repentance would be to stop just making sensational stupid statements and now actually work for schools, education, mohalla clinics, true harmony AND essentially roti, kapda, makaan of underprivileged in your constituency and wash your dirty conscience..
    And we will know clearly on Day of Judgement and maybe in near future in this duniya too…

    • Congress former Chief ministers(who ruled as a CM for 15years,10years etc and former Central government ministers,congress leader of the opposition,Their PM Rahul Gandhi)Almost all the core committe members of Congress Lost Lost Lost The elections with huge margin…Congress just want to enjoy the power with muslim votes….they didn’t do anything as an opposition except evm Bizzare

  2. नई दिल्ली। वरिष्ठ पत्रकार रविश ने मुस्लिम भाइयों से भावुक अपील की है। अपनी अपील में उन्होंने कहा कि आप लोग भाजपा और आरएसएस की आलोचना करना बंद कर दें। आपका विरोध करना ही उनकी ताक़त है। वैसे भी जम्मू-कश्मीर को छोड़कर न तो तुम्हें कहीं का मुख्यमंत्री बनना है और न ही प्रधानमंत्री। जिनको सत्ता लेनी है, वो अपने आप आरएसएस, भाजपा की काट कर लेंगे।
    आपके विरोध करने की वजह से ही भाजपा 18 फीसदी मुस्लिमों का भय दिखाकर 80 फीसदी हिन्दुओं का वोट अपने पाले में लाने में सफल रहती है और पूरे खेल के संचालक तो असल में 3 फीसदी ही हैं। उन्होंने कहा कि आपको जिस किसी भी पार्टी को वोट देना है दो, जिसका समर्थन करना है करो पर भूलकर भी भाजपा, आरएसएस और मोदी का विरोध मत करो।
    भूल जाओ की आरएसएस नाम का कोई संगठन भी है।
    भूल जाओ की भाजपा कोई पार्टी है। भूल जाओ कि मोदी कोई नेता है। आपकी यही दशा रही तो कुछ साल में आप राजनीतिक तौर पर अछूत बना दिए जाओगे, फिर न तो आपको कांग्रेस पूछेगी, न भाजपा, न सपा और न बसपा। जिस मीम और ओवैसी का आप अंध समर्थन कर रहे हो उसको चुनाव में हिस्सा तभी तक लेने दिया जायेगा जब तक की भाजपा को उनके चुनाव लड़ने से फायदा हो रहा है।
    जिस दिन भाजपा को लगेगा कि अब इनके चुनाव लड़ने से उसे नुकसान हो रहा है उसी दिन मीम पर पाबंदी लगा दी जायेगी जैसे की पहले 30-40 साल तक पाबन्दी लगी थी।

    तुम केवल आधुनिक, वैज्ञानिक शिक्षा पर ध्यान दो, इतने अंक लाओ कि बिना आरक्षण के ही तुम सरकारी नौकरियां हासिल कर सको।
    आजादी से पहले भारत में मुसलमानों की आबादी 35 फीसदी थी और 35 फीसदी सरकारी नौकरियों पर मुसलमानों का कब्जा था, उस समय यह आरक्षण जैसी कोई व्यवस्था भी नही थी।

    जो उस मुकाम तक पहुंचते थे वो अपनी काबिलियत के दम पर ही पहुंचते थे और जो आप दीनी इदारों में जकात, खैरात का पैसा देते हैं बेहतर होगा कि ऐसे इदारों में भी जकात, खैरात का पैसा दो जो आपकी शिक्षा और रोजगार के लिए काम करे।
    यदि ऐसे इदारे नही हैं तो बनाइये।
    याद रखिये इस समय “कम्पटीशन” का जमाना है और आप हर क्षेत्र में पिछड़ रहे हैं, किसी भी तरह की सरकारी मदद का भरोसा छोड़ दीजिये। जो करना है आप अपने दम पर कीजिये।
    बाकी ख़ुदा मालिक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here